Products and Services
v
Vedic Panchang 
         Calendar

v Gem Stones
v Graha Yantra
v future Forecast of Year
        2012

v Vastu/Ideal Maps
v Chaughadia and
        Rahukaal

v Indian Festivals
v Indian Holidays
Services - free Report
v Saturn's Sade Sati
    Dasha Report
v Maglik or Mangal
         Dosha  Report

v Kaalsarp Yoge Report
v Kundali Match Report
v Birth Horoscope Report
v Numerology Report
v Match Making Report
v Career education report
v Business Report
v Health Report
v Love life Report
v Money Report
v Investment Report
v Vastu Report
  
Astrology/ Jyotish
v
Zodiac
v Signs
v Planets/Grahas
v House/Bhava/Place
v Gender
v Nakshatra
v Name , Nature and
        effects of  Nakshatra

v Lagna/Ascendant
v Name, Nature and
        Effects of  Lagna
  
v Resultant
        Relationship in Planets

v Definition and types
        of   Houses

v The effect of planets
        in the twelve houses

v Importance of House 
        position

v Dasha/Period
v How to pridict using
        dashas

v General principles
v Key Planets
v Vargas
v Ashtakavarga
v Sudarshan Chakra
v Combination of
        Dashas and Transits

v Argala
v Healing power of
        Gems  &  Stones

v Introduction of  
        Panchang

  Dosha & Remedies
v Mangal /Kuja dosha &
         Remedies?

v Saturn’s Sadhesati &
         Remedies?

v Kaalsarp dosha &
         Remedies?

  Chaughadia, period
v      Monday
v Tuesday
v      Wednusday
v Thursday
v Friday
v      Saturday
v Sunday
    Hora Period
v    Monday
v     Tuesday
v     Wednusday
v     Thursday
v     Friday
v     Saturday
v     Sunday
   Important Links
v Links of Institutions
v     Links of Banks
v    Links Ind. Post Offices
v     Link Inter.Post Offices
v     Links Cyber Crime
         Police Stations( India)

v     Links of Municipal
         Corporations (India)

v    Links of Govt. and
         Educational websites(i)

v     Link of Embassies and
         Consulates

v     Links of Distance
         Education

v     Links of Central
         Government of India

KNOW YOUR FUTURE FROM Smart Astro Guru.
Copyright © 2010-2018, All Rights Reserved
Terms & Conditions of services--Disclaimer--Privacy Policy
:
FB
Twitter

Warning: Cannot modify header information - headers already sent by (output started at /home/content/14/9898914/html/smartastroguru/Vrushabh_Rashiphal_2015.php:553) in /home/content/14/9898914/html/smartastroguru/blog/wp-content/plugins/cleantalk-spam-protect/cleantalk.php on line 130
User Name:
Password:
वृषभ राशि भविष्य राशिफल 2015
Tauras
वृषभ राशी  का राशिफल :  वृषभ राशि का स्वामी शुक्र है । आपकी राशी में कृत्तिका, रोहिणी, मृगशिरा नक्षत्र आते हैं जिनके स्वामी सूर्य, चन्द्र, मंगल हैं ।   आपकी वृषभ राशि होने के कारण आपकी शारीरिक बनावट आकर्षक होती है । आपके कंधे चौड़े होते हैं । आपकी आँखें बडी़-बडी़ और छाती मजबूत है ।  आप साहसी और हंसमुख स्वभाव के व्यक्ति हैं । आप अपने प्रयासों द्वारा किसी भी परिस्थिति को संभाल सकने में सक्षम होते हैं । शुक्र आपको सौंदर्य का स्वामी बनाता है ।  आप पूर्ण ईमानदारी और लगन के साथ अपने परिवार और बड़े बुजुर्गों की ज़िम्मेदारी निभाने के लिए तैयार रहते हैं । आप के लिए उपयुक्त कैरियर  कपड़ों का कारोबार, स्टेशनरी, प्रशिक्षक या भाषा के शिक्षक से संबंधित  एवं मुद्रण व् फ़ोटोग्राफ़ी आदि हो सकता है ।          ग्रहों की स्तिथि व् स्थान के अनुसार वर्ष 2015 आपके लिए सामान्यतया ठीक ही रहेगा , आप इस वर्ष संतान नहीं करने का निर्णय ले सकते हैं । परिवार में सामान्य अनबन रह सकती है मगर  वर्ष अच्छा रहेगा । भविष्यफल 2015 के अनुसार कभी कभी तीखी नोक-झोंक होगी, किन्तु सब शीघ्र शांत भी हो जाया करेगा ।  आपके घर के बड़े आपको नेक सलाह भी देंगे, किन्तु आपको रास नहीं आएगी ।  राशिफल 2015 के अनुसार  इस वर्ष में नए सम्बन्ध बनाने की कोशिश व्यर्थ जाएगी । जिनका सम्बन्ध चल रहा है उनको आगे चलाने में समस्या आएगी ।  आपका दूसरी जाति के लोगों से प्रेम सम्बन्ध पनप सकता है, हालांकि वह भी सफल नहीं हो पाएगा । जनवरी, मई, जून, सितम्बर, अक्टूबर के महीने में आपको सावधान रहना होगा। राशिफल 2015 के अनुसार आपको गुप्तांगों, मासिक धर्म,रीढ़ की हड्डी, पेट की समस्या हो सकती है । वर्ष के उत्तरार्ध में समस्या कम हो जायेगी ।  आप इस वर्ष कार्य के लिए बहुत यात्रा करेंगे । आपको अपने घर वालों से तथा अपनी पत्नी से व् मित्रों से बहुत सहयोग मिलेगा । व्यवसायी लोगों के लिए के यह वर्ष अच्छा व् सफल रहेगा ।  आपको इस वर्ष सट्टे व् जुआ से दूर रहना होगा अन्यथा नुकसान हो सकता है , धन के मामले में यह वर्ष अच्छा रहेगा । आपको इस वर्ष काफी धनागमन होगा और आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी होगी । नौकरीपेशा लोगों को वेतन वृद्धि के योग हैं । उच्च शिक्षा के अच्छे योग हैं । भविष्यफल 2015 के अनुसार सभी संकाय के छात्र अच्छा करेंगे । विदेश में शिक्षा की भी सम्भावना है ।   आपको मानसिक परेशानियों से बचने व् सभी  कार्यों की सफलता के लिए रोज गणेश जी की पूजा करनी चाहिए । एवं “ॐ गणेशाय नमः “ का जाप करना चाहिए तथा  जो लोग अपना व्यवसाय करते हैं उन्हें "ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय नम:" का जाप रोज करना चाहिए । सभी प्रकार की परेशानियों से बचने के लिए  शिवजी एवं शुक्र देव की पूजा करें तथा उनके मन्त्रों का जप करें । शिवजी का मंत्र है : “ ॐ नमः शिवाय “। एवं शुक्र देव का  मन्त्र है : “ ॐ द्रां द्रीं द्रौं सः शुक्राय नमः “। आपको बीच की अंगुली में  हीरा रत्न को सोने की अंगूठी में बनवा कर किसी पंडित से सिद्ध करवा कर  पहनना चाहिए । आपके लिए भाग्यशाली हैं :  आपका भाग्यशाली रंग है :          सफेद रंग    आपका भाग्यशाली दिन है :         शुक्रवार     आपका भाग्यशाली नम्बर है :      6 (छः )     डिस्क्लेमर  :  “स्मार्ट एस्ट्रो गुरु ” किसी भी प्रकार की जानकारी की न ही तो जिम्मेदारी लेता है और न ही किसी प्रकार की गारंटी देता है । उपरोक्त सभी प्रकार की भविष्य फल की जानकारी गृह नक्षत्रों व् राशियों की गणितीय गणना के आधार पर दी जाती है , अतः गणना में किसी प्रकार की त्रुटी भी हो सकती है ।  उपरोक्त सभी प्रकार की जानकारी आपके मार्गदर्शन हेतु दी जाती है फिर भी आप अपने पूर्ण विवेक एवं बुद्धि से सोच समझ कर कार्य करें । हालाँकि हम इसके सही होने की पूर्ण कोशिश करते हैं । ये हमारे एक्सपर्ट ज्योतिषियों द्वारा उपलब्ध करवाई जाती है । हम भगवान् शंकर से प्रार्थना करते हैं की ये वर्ष व् सम्पूर्ण जीवन मंगलमय हो ।