शिलान्यास करने व् मुख्य द्वार  लगाने का शुभ समय  :- 
वैशाख शुक्ल पक्ष (अप्रैल – मई ), श्रावण मास (जुलाई – अगस्त ), मार्गशीर्ष मास (नवम्बर – दिसंबर), पौष मास (दिसंबर – जनवरी ) और फाल्गुन मास (फरवरी – मार्च) महीने शुभ  होते हैं
व् अन्य महीने अशुभ माने जाते हैं |  उपरोक्त महीनों  के शुक्ल पक्ष की  तिथि  द्वितीया , पंचमी , सप्तमी, नवमी, एकादशी , त्रयोदशी  तिथियों में  वार , सोमवार, बुधवार, गुरूवार, शुक्रवार, आदि का दिन होना  शुभ रहता है | तथा सूर्य की वृषभ  राशी , वृश्चिक राशि , और कुम्भ राशि  में सूर्य अनुकूल रहता है |
व्यक्ति की राशि के अनुसार मुख्य द्ववार की स्तिथि :
पूर्व दिशा में द्वार  :   मेष राशि, सिंह राशि, धनु राशि  के व्यक्ति |
दक्षिण  में द्वार  :  वृषभ राशि, कन्या राशि , मकर राशि  के व्यक्ति |
पश्चिम दिशा  :  मिथुन राशि, तुला राशि , कुम्भ राशि  के व्यक्ति |
उत्तर दिशा  :  कर्क राशि , वृश्चिक राशि  के व्यक्ति |
अगर व्यक्ति की राशि के अनुसार दी गई दिशा में मुख्य द्वार नहीं लगा सकें तो उस
दिशा में कम से कम एक खिड़की तो अवश्य ही लगानी चाहिये |
.

Google+ Comments