जन्मांक   – 4  (चार ) :-  जिन बच्चों या व्यक्तियों का जन्म महीने की , 04 , 13 , 22, 31 , तारीख को हो
उनका जन्मांक  4  चार  होता है | सूक्ष्म एवं विशेष गणना करने के लिए मूलांक निकालना चाहिए ,
जिसके लिए दिन, मास , वर्ष की गणना करनी चाहिए | जिन व्यक्तियों का जन्मांक 4   चार   होता है 
वह जातक राहु  से प्रभावित रहता है | जन्मांक चार   के जातक जन्म से ही गंभीर  विरोधी प्रवृर्ति के एवं
सभी धर्मो के प्रति इनकी गहरी आस्था होती है | चार  अंक वाले जातक दूसरों के प्रति बहुत उदार होते हैं
| चार  अंक के जातक के व्यवसाय , ट्रांसपोर्टर , कंप्यूटर हार्डवेयर का काम, वाहनों के कलपुर्जे , बिजली
का सामान , भवनों के नक़्शे, ठेकेदारी, बियर बार,आदि हो सकते हैं | चार  अंक के व्यक्ति बहुत ही
शान्त प्रकृति के होते हैं | चार  अंक वाली स्त्रियाँ व्यवहारिक  एवं अच्छे चरित्र की होती हैं | एवं अपने पति
से ज्यादा गुणी तथा पढ़ी लिखी होती हैं तथा आत्म सम्मान वाली  होती हैं | चार अंक की स्त्रियाँ अपने
पति के सभी कार्यों में सम्पूर्ण सहयोग देती हैं | जन्मांक चार  के जातकों को कमर दर्द, जोड़ों का दर्द,
एवं मानसिक रोगों की संभावना रहती है | सभी प्रकार की परेशानियों के लिए जातक को गोमेद को
चांदी की अँगूठी में फिट करवा कर रविवार के दिन के समय पूजा घर में जाकर अँगूठी को दूध में व्
गंगाजल में स्नान करवा कर राहुदेव के मंत्र “ ॐ रां राहवे नमः “ का उच्चारण १०८ बार करके अँगूठी
को सिद्ध करके अनामिका उँगली में पहनना चाहिए |
जन्माक चार (4) के लिए अनुकूल :
समयावधि :  २२ जून से २३ जुलाई तक का समय 
अधिष्ठाता ग्रह :  राहू
शुभ वार :  रविवार , सोमवार एवं बुधवार 
तारीख  : 4  , 13 , 22  और  31 
मित्रता : मूलांक   1,2,4,8  वाले व्यक्ति
रंग :  नीला  
दिशा : दक्षिण व् पूर्व
रत्न  :  गोमेद 
धातु  : स्वर्ण
 
जन्माक चार (4) के लिए प्रतिकूल  :
समयावधि :  २3  नवम्बर से २0  दिसंबर  तक का समय 
अधिष्ठाता ग्रह :  – –
शुभ वार :  शनिवार एवं शुक्रवार 
तारीख  : 7  , 16  और 25   
मित्रता : मूलांक  3  और  7  वाले व्यक्ति
रंग :  सफेद  
दिशा : उत्तर एवं पश्चिम 
रत्न  :  नीलम 
धातु  : लोहा और ताम्बा 
 
 
.

Google+ Comments